श्रीराम सीड्स लिमिटेड की नई सरसों किस्म श्रीराम-1668 की खूबियां जाने:New mustard variety

By Kheti jankari

Updated on:

श्रीराम सीड्स लिमिटेड की नई सरसों किस्म श्रीराम-1668 की खूबियां जाने

सरसों भारत में उगाई जाने वाली प्रमुख तिलहनी फसल है। राजस्थान में सबसे अधिक मात्रा में सरसों की खेती की जाती है। सरसों की बजाई 20 सितंबर से शुरू होकर पूरे अक्टूबर और नवंबर तक चलती है। सरसों के उन्नत बीज होने के कारण इसकी पैदावार भी अच्छी निकलती है। विभिन्न कंपनियों द्वारा विभिन्न प्रकार के उन्नत किस्म बाजार में दी जाती है। जिसे किसान अपने खेत में लगाते हैं और अच्छी पैदावार निकलते हैं। ऐसी ही श्रीराम सीड्स की दो किस्में आती है- एक श्रीराम-1666, दूसरी श्रीराम-1668 यह दोनों किस्में बहुत अच्छी पैदावार देती हैं।

सरसों किस्म KBH-5207 की खासियत जानें

श्रीराम-1668 सरसों किस्म की विशेषताएं

श्रीराम-1668 डीसीएम श्रीराम लिमिटेड सीड्स की काली सरसों की हाइब्रिड किस्म है। इसके पौधे की ऊंचाई लगभग 5.5 फीट के आसपास रहती है। सरसों की इस किस्म का छिलका भारी होता है। जिससे यह झड़ती नहीं है। इसमें तेल की मात्रा अन्य किस्मों के मुकाबले अधिक होती है। यह एक रोग रहित सरसों की समय जो सफेद रतुआ रोग के प्रति सहनशील है। यह किस्म पाले के प्रति भी सहनशील है।

श्रीराम-1668 सरसों किस्म का बजाई समय

सरसों की इस किस्म के लिए 25 सितंबर से 20 अक्टूबर का समय बुवाई के लिए सबसे उपयुक्त माना गया है। इस समय बजाई करने से ये किस्म सबसे अच्छी पैदावार निकल के देती है।

श्रीराम-1668 सरसों किस्म का पकने का समय

सरसों की यह किस्म पकने में लगभग 125 से 130 दिन का समय लेती है। इस किस्म की बिजाई हम सिंचित व असिंचित दोनों क्षेत्रों में कर सकते हैं। इस किस्म को कम पानी की आवश्यकता पड़ती है।

श्रीराम-1668 सरसों किस्म की पैदावार

सरसों की इस किस्म में फुटाव जड़ों से ही शुरू होता है। जिससे इसमें अधिक कल्ले निकलते हैं। और कल्लो में अधिक फलियां बनती हैं। इसकी एक फली में 15 से 20 दाने होते हैं। इसके एक पौधे पर 300 से 400 फलियां आसानी से मिल जाती हैं। इस किस्म की पैदावार की बात करें, तो यह किस्म 12 से 14 क्विंटल प्रति एकड़ तक पैदावार आसानी से दे देती है।

नोट- सरसों बजाई करते समय बीज उपचार अवश्य करें।

अगर किसी किसान भाई ने इस किस्म की पिछले वर्ष बजाई की हो। तो इस किस्म के बारे में अपने अनुभव जरूर साँझा करें। धन्यवाद!

FAQ

सबसे महंगी सरसों कौन सी है?
सरसों की पीली किस्म काली किस्म के मुकालबे अधिक भाव में बिकती है।
सरसों कितने प्रकार की होती है?
सरसों दो प्रकार की होती है- काली सरसों और पीली सरसों

ये भी पढ़ें- हरियाणा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी की कम पानी में अच्छी पैदावार देने वाली काली सरसों की टॉप किस्में

राशि-1604 हाइब्रिड काली सरसों किस्म की विशेषताएं

एडवांटा सीड्स की हाइब्रिड सरसों की ADV–427 की विशेषताएं जानें

सरसों की फसल में अधिक उत्पादन और तेल की मात्रा बढ़ने वाला सबसे ताकतवर खाद

सरसों वाले किसान सावधान:समय पर करें इस रोग की रोकथाम नहीं तो नष्ट हो सकती है आपकी सरसों की फसल

  • मक्का का सबसे खतरनाक कीट रोग:समय पर कंट्रोल जरूरी, सावधान रहे किसान

    मक्का का सबसे खतरनाक कीट रोग:समय पर कंट्रोल जरूरी, सावधान रहे किसान

  • सोयाबीन में खरपतवार नियंत्रण करने का सही तरीका

    सोयाबीन में खरपतवार नियंत्रण करने का सही तरीका:बेस्ट खरपतवार नाशक, किस समय प्रयोग करें, संपूर्ण जाने

  • सोयाबीन की खेती कैसे करें

    सोयाबीन की खेती कैसे करें:सही समय, कौन सा खाद डालें, बीज मात्रा, संपूर्ण जाने

  • मक्का में खरपतवार नाशकों का प्रयोग करते समय ध्यान रखने योग्य मुख्य बातें

    मक्का में खरपतवार नाशकों का प्रयोग करते समय ध्यान रखने योग्य मुख्य बातें:Main precautions while using herbicides in maize

Kheti jankari

मैं एक किसान हूँ, और खेती में एक्सपर्ट लोगो से मेरा संपर्क है। मैं उनके द्वारा दी गयी जानकारी और अनुभव को आपके साथ साँझा करता हूँ। मेरा प्रयास किसानों तक सही जानकारी देना है। ताकि खेती पर हो रहे खर्च को कम किया जा सके।

2 thoughts on “श्रीराम सीड्स लिमिटेड की नई सरसों किस्म श्रीराम-1668 की खूबियां जाने:New mustard variety”

Leave a Comment