भारत के वैज्ञानिकों ने तैयार की मक्के की नई किस्म:अधिक पैदावार देने की क्षमता, रोग प्रतिरोधक किस्म:Maize variety of University of Agricultural Sciences

By Kheti jankari

Published on:

भारत के वैज्ञानिकों ने तैयार की मक्के की नई किस्म

भारत के वैज्ञानिकों ने तैयार की मक्के की नई किस्म। मक्का की खेती। मक्का की अधिक पैदावार वाली किस्म। MAH 15-84 मक्का किस्म। वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की गयी मक्का किस्म। Maize variety of University of Agricultural Sciences.

धान्या सीड्स की मक्का किस्म:3 महीने से भी कम समय में तैयार होने वाली किस्म

कृषि वैज्ञानिक कृषि के विकास के लिए फसलों की नई नई किस्मों को किसानों के लिए बनाते रहते हैं। वैज्ञानिक ऐसी किस्मों का निर्माण करते हैं, जो सिर्फ उपज में ही अच्छी नहीं रहती, बल्कि उसमें पौष्टिक गुण भी अधिक होते हैं। मक्का खरीफ सीजन की मुख्य फसल है। इसकी बिजाई फरवरी और मार्च में शुरू हो जाती है। कृषि विज्ञान विश्वविद्यालय, बेंगलुरु के वैज्ञानिकों ने 2023 में मक्का की एक नई किस्म बनाई थी। जो MAH 15-84 के नाम से जानी जाती है। मक्का की यह किस्म अब तक सबसे अधिक पैदावार देने वाली किस्म है। इस किस्म के बारे में सम्पूर्ण जानकारी के लिए कृपया पुरा लेख पढ़ें।

MAH 15-84 मक्का किस्म की विशेषताएं

MAH 15-84 मक्का किस्म कृषि विज्ञान विश्वविद्यालय, बेंगलुरु द्वारा बनाई गई एक हाइब्रिड किस्म है। इसकी किस्म का पौधा पकने के बाद भी हरा रहता हैं, और चारे के तौर पर पशुओं के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। इस किस्म में आपको अधिक पैदावार मिलती है। मक्का की यह किस्म रोगों के प्रति भी सहनशील है। इसकी किस्म की बिजाई आप रबी और खरीफ दोनों सीजन में कर सकते हैं। लेकिन खरीफ के सीजन के लिए यह सबसे अच्छी रहती है। इस किस्म की बिजाई आप संचित और असंचित दोनों क्षेत्र में कर सकते हैं।

पुरे देश में अच्छी पैदावार के लिए जानी जाती है मक्का की यह हाइब्रिड किस्म:बिजाई समय, औसत पैदावार

MAH 15-84 मक्का किस्म का पकाने का समय

मक्का की यह किस्म पकने में 115 से 120 दिन का समय लेती है। इसका 6 से 8 किलोग्राम बीज प्रति एकड़ प्रयोग किया जाता है। रबी के सीजन में आप 1 से 2 किलोग्राम बीज कम भी प्रयोग कर सकते हैं।

MAH 15-84 मक्का किस्म की औसत पैदावार

मक्का की इस किस्म की औसत पैदावार 50 क्विंटल प्रति एकड़ तक रहती है। विज्ञानकों की सलाह के अनुसार अगर आप इसकी खेती करते हैं, तो यह आपको 60 क्विंटल प्रति एकड़ तक पैदावार भी दे सकती है।

नोट-इस किस्म का बीज अभी बाजार में उपलब्ध नहीं है। अगर आपको इसका बीज लेना है। तो आप यूनिवर्सिटी से संपर्क करके बीज खरीद सकते हैं।

आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी। कृपया कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और इसे आगे अन्य किसानों तक अवश्य शेयर करें। धन्यवाद!

ये भी पढ़ें-मक्का की वैज्ञानिक खेती:अधिक पैदावार के लिए कब बुवाई करें, क्या खाद डालें, संपूर्ण जाने

पायनियर सीड्स की सबसे अच्छी हाइब्रिड मक्का किस्म

100 दिन में पकने वाली मक्का की हाइब्रिड किस्म:किसानों की मन पसंद किस्म

DKC-9144 मक्का किस्म:किसान क्यों इस मक्का किस्म को पसंद करते हैं जानें

Kheti jankari

खेती जानकारी एक ऐसी वेबसाइट है। जिसमें आपको कृषि से जुड़ी जानकारी दी जाती है। यहां आप कृषि, पशुपालन और कृषि यंत्रों से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment