लहसुन में नोक सुखना:पत्तियों का पीलापन:एक स्प्रे में संपूर्ण समाधान:Ways to remove yellowness in garlic

By Kheti jankari

Published on:

लहसुन में नोक सुखना

लहसुन में नोक सुखना। पत्तियों का पीलापन। एक स्प्रे में संपूर्ण समाधान। लहसुन की खेती। लहसुन में रोग। लहसुन में कीट रोग। लहसुन के मुख्या रोग। लहुसन में पीलापन। लहसुन में पीलापन दूर करने के उपाय .Ways to remove yellowness in garlic

लहसुन में कितना कारगर है पिक्सल का प्रयोग:कंद वर्गीय फसलों के लिए रामबाण

किसान साथियों नमस्कार, लहसुन में कई तरह के रोग लगातार देखने को मिलते हैं। अभी जो मौसम चल रहा है, इसमें लगातार धुंध पड़ रही है। मौसम में नमी होने के कारण लहसुन में कई तरह के रोग देखे जा रहे हैं। किसान साथी अपने खेत का निरीक्षण करते रहें और जांच रखें। अगर आपके लहसुन की पत्तियां पीली पड़ रही है, या ऊपर से नोक सूख रही है। इस समय लगातार नमी के कारण लहसुन की पत्तियों पर फंगस बन गई है। यह फंगस पत्तों पर काले रंग के धब्बे बना देती है। इसे डाउनी मिल्ड्यू रोग कहते हैं। यह रोग लहसुन में काफी अधिक मात्रा में नुकसान करता है। इसलिए किसान भाई इस रोग के लिए समय पर स्प्रे करें और अपनी लहसुन की फसल का ध्यान रखें। लहसुन में नोक सूखने और पत्तों के पीलापन को दूर करने के लिए आप नीचे दिए गए कुछ उपाय कर सकते हैं।

लहसुन में पीलापन दूर करने के उपाय

किसान साथियों धूप ना निकलने के कारण लहसुन की ऊपरी नोक पर फंगस जम गई है। नोक सूखने लगी है। लहसुन में पीलापन आने के एक और कारण थ्रिप्स हो सकता है। अगर आपको अपने खेत में थ्रिप्स दिखाई दे। तो आप उसके लिए कीटनाशक का प्रयोग अवश्य करें। मैं आपके फार्मूला बताऊंगा। आप नीचे बताये गए इस एक स्प्रे करके अपनी फसल से फंगस रोग, कीट रोग और इसका पीलापन पूरी तरह से दूर कर सकेंगे।

लहसुन में 70-80 दिनों पर करें ये काम:फिर होगी बंपर पैदावार

इस समय लहसुन में रिडोमिल गोल्ड (मेटलैक्सिल 4% + मैन्कोजेब 64%) 2.5 ग्राम प्रति लीटर या एवन्सर ग्लो (एज़ोक्सीस्ट्रोबिन 8.3% + मैनकोज़ेब 66.7% डब्लूजी) 3 ग्राम प्रति लीटर के के साथ आप रिवेंज (इमिडाक्लोप्रिड 17.8% एसएल) 100ml प्रति एकड़ को आपस में मिलाकर स्प्रे कर सकते हैं। इस स्प्रे के साथ आपको एनपीके 19-19-19 एक किलोग्राम प्रति एकड़ और माइक्रोन्यूट्रिएंट्स को साथ में अवश्य मिल लें। ताकि लहसुन से पीलापन पूरी तरह से खत्म हो जाए। अगर आप एनपीके 19-19-19 का इस्तेमाल नहीं करना चाहते। तो आप नैनो यूरिया के साथ में एनपीके 00-52-34 का स्प्रे भी कर सकते हैं।इसके भी आपको अच्छे रिजल्ट देखने को मिलेंगे।

ऊपर दिए गए फार्मूले के एक स्प्रे द्वारा आप अपनी फसल से सभी प्रकार के रोगों को संपूर्ण तरीके से खत्म कर सकते हैं। अगर आप इन तरीकों का पहले भी प्रयोग करते आए हैं। तो कृपा कमेंट के माध्यम से हमें जरूर बताएं और इसे आगे दूसरे किसानों तक भी अवश्य शेयर करें। धन्यवाद!

FAQ

लहसुन पीली क्यों हो रही है?
लहसुन के पीला होने के कई कारण हो सकते है। फंगस रोग का अटैक, कीट रोग का अटैक, पोषक तत्वों की कमी और अधिक ठंड की वजह से लहसुन में पीलापैन आ सकता है।

ये भी पढ़ें- लहसुन की उपज और क्वालिटी बढ़ाने का सबसे सस्ता स्प्रे

लहसुन में कंद बनने के समय करें इस ताकतवर खाद का इस्तेमाल:लहसुन की मोटाई और वजन बढ़ाने का आसान तरीका

लहसुन में पीलापन:पौधे के पत्ते ऊपर से सूखने का मुख्या कारण, कृषि जानकार ने बताया ये तरीका

गुड़ाई के समय लहसुन में क्या डालें:जड़ गलन समस्या व जड़ के कीड़े की रोकथाम,कृषि वैज्ञानिक

Kheti jankari

खेती जानकारी एक ऐसी वेबसाइट है। जिसमें आपको कृषि से जुड़ी जानकारी दी जाती है। यहां आप कृषि, पशुपालन और कृषि यंत्रों से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment