गेहूं में सब कुछ डालने के बाद भी कल्ले नहीं बने:ये है मुख्य कारण, डालें ये जरूरी खाद:Do this important work for budding in wheat

By Kheti jankari

Updated on:

गेहूं में सब कुछ डालने के बाद भी कल्ले नहीं बने

गेहूं में सब कुछ डालने के बाद भी कल्ले नहीं बने। गेहूं में अधिक पैदावार कैसे बढ़ाएं। गेहूं के लिए ग्रोथ प्रोमोटर। गेहूं में कल्लों के फुटाव के लिए करें यह जरूरी काम। गेहूं की खेती। गेहूं में कैल्शियम नाइट्रेट का प्रयोग। Do this important work for budding in wheat.

गेहूं में जिंक और सल्फर का प्रयोग एक साथ नहीं किया:तो सब कुछ फेल, जानें क्या कहते है कृषि जानकर

किसान साथियों नमस्कार, गेहूं में अधिक पैदावार लेने के लिए हमें उसमें अधिक खादों और न्यूट्रिशन का प्रयोग करना पड़ता है। जिससे उसमें कल्लों का फुटाव और बढ़वार भी अधिक हो। खादों और न्यूट्रिशन को समय पर प्रयोग करना भी उतना ही आवश्यक होता है। जितना कि उन्हें खेत में डालना। अगर आप समय पर खादों और न्यूट्रिशन का प्रयोग नहीं करोगे। तो आप तो वह पूरी तरह से आपके खेत में कार्य नहीं करेंगे। लेकिन अगर यह सब करने के बाद भी आपकी गेहूं की फसल में कल्लों का फुटाव ना हो, तो इसके लिए आप उसमें नीचे बताई गई कुछ कार्य कर सकते हैं। जिससे उसमें कल्लों का फुटाव अधिक मात्रा में होगा।

गेहूं में कल्लों के फुटाव के लिए करें यह जरूरी काम

जब भी आप अपनी फसल में जिंक, सल्फर, मैग्नीशियम या अन्य सूक्ष्म पोषक तत्वों का प्रयोग कर लेते हो। लेकिन उसके बाद भी आपकी फसल में कुछ खास तरह की ग्रोथ देखने को नहीं मिलती। तो इसका मुख्य कारण होता है, कि आपके खेत में ऑर्गेनिक कार्बन की कमी होती है। ऑर्गेनिक कार्बन जमीन में पड़े तत्वों को पौधे तक पहुंचाने का काम करता है। इसके लिए आप कुछ नीचे बताए गए काम कर सकते हैं।

गेहूं में मैग्नीशियम का प्रयोग करें या ना करें:मैग्नीशियम पौधे के लिए क्यों जरूरी है

  • गेहूं अगर कल्ले नहीं बन रहे, तो उसमें आप कैल्शियम नाइट्रेट का प्रयोग कर सकते हैं। कैल्शियम की कमी होने से भी पौधे जमीन से पोषक तत्वों को नहीं ले पाते और कल्लों का फुटाव अच्छे से नहीं होता। इसलिए आप गेहूं की फसल में 10 किलोग्राम कैल्शियम नाइट्रेट प्रति एकड़ प्रयोग करें।
  • खेत में वर्ष में एक बार गोबर की गली सड़ी खाद या फिर वर्मी कंपोस्ट का प्रयोग अवश्य करें।
  • गेहूं की फसल में आप ऑर्गेनिक कार्बन की मात्रा को बढ़ाने के लिए वर्मी कम्पोस्ट, ह्यूमिक एसिड या फिर सीवीड जो सागरिका के नाम से बाजार में आता है। उसका प्रयोग कर सकते हैं। यह आपके जमीन में ऑर्गेनिक कार्बन की मात्रा को बढ़ाते हैं। और जमीन में पड़े तत्वों को पौधे तक पहुंचाने का काम करते हैं।
  • कल्लों के फुटाव के लिए आप अपने गेहूं की फसल में माइक्रो न्यूट्रिएंट्स का स्प्रे भी कर सकते हैं। इसके लिए आप चेल्टेड जिंक 100 ग्राम, मैग्नीशियम सल्फेट 1 किलोग्राम, मैंगनीज सल्फेट 500 ग्राम, यूरिया 1 किलोग्राम।, बोरोन 100 ग्राम को प्रति 200 लीटर पानी में घोलकर प्रति एकड़ स्प्रे कर सकते हैं।

आपको मेरे द्वारा दी गयी जानकरी कैसी लगी कृपा कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और दूसरे किसानों तक भी शेयर करें। धन्यवाद!

FAQ

गेहूँ की वृद्धि के लिए आवश्यक भौगोलिक परिस्थितियाँ क्या हैं?
गेहूं की खेती के लिए बुलाई दोमट मिटटी सबसे उपयुक्त मानी जाती है। और इसके लिए 10 डिग्री से 18 डिग्री सेल्सियस तक तापमान सबसे उपयुक्त रहता है।

ये भी पढ़ें – गेहूं में माइकोराइजा का प्रयोग करें या ना करें:क्या यह कल्ले बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा उत्पाद है, क्या कहते हैं कृषि सलाहकार, संपूर्ण जानकारी

खरपतवार नाशक दवाइयां के प्रयोग से दबे हुए गेहूं को ठीक करने का सस्ता तरीका जानें

गेहूं की पत्तियों का खराब होना:नीचे की पत्तियां पर धब्बे और सुख जाना, मुख्य कारण और उपचार जानें

गेहूं की पैदावार बढ़ाने का आसान तरीका:कुछ तरीके जानें जो आपकी पैदावार को बढ़ा सकते हैं

Kheti jankari

खेती जानकारी एक ऐसी वेबसाइट है। जिसमें आपको कृषि से जुड़ी जानकारी दी जाती है। यहां आप कृषि, पशुपालन और कृषि यंत्रों से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

2 thoughts on “गेहूं में सब कुछ डालने के बाद भी कल्ले नहीं बने:ये है मुख्य कारण, डालें ये जरूरी खाद:Do this important work for budding in wheat”

  1. सरसो मे पानी से काफ़ी पेड़ गल गए आई लेकिन जो पेड़ बचे है उनका ग्रोथ नहीं हो रहा है क्या करे?

    Reply
  2. नमस्ते सर नमस्ते हमें जानकारी चाहिए 1 एकड़ में कितना कोयल डाल सके जिससे कि खेतों की कार्बन शक्ति सामान्य हो सके क्योंकि कोयले के अंदर सबसे अधिक मात्रा में कार्बन पाया जाता है एक एकड़ में कितना पिसा हुआ कोयला डालें
    सर इसकी जानकारी आपकी वेबसाइट पर डालें

    Reply

Leave a Comment