सरसों में दूसरी सिंचाई पर डालें ये दमदार खाद:मिलेगी 1 से 2 कुंतल अधिक पैदावार:Fertilizer on second irrigation in mustard

By Kheti jankari

Published on:

सरसों में दूसरी सिंचाई पर डालें ये दमदार खाद

सरसों में दूसरी सिंचाई पर डालें ये दमदार खाद। सरसों की फसल में दूसरी सिंचाई कब करें। सरसों की खेती। सरसों में दूसरी सिंचाई पर खाद। सरसों में दूसरी सिंचाई के बाद स्प्रे। सरसों में दमदार खाद। Fertilizer on second irrigation in mustard.

सरसों में सफ़ेद रतुआ रोग की पहचान:समय पर करें रोकथाम, नुक्सान से बचें

किसान साथियों नमस्कार, सरसों एक ऐसी फसल है, जिसको कम पानी की आवश्यकता होती है। यह एक से दो पानी में पककर तैयार हो जाती है। अगर आप सरसों की पीली किस्म का चयन करते हैं। तो यह एक पानी में भी पककर तैयार हो जाती है। किसान साथियों अगर आपकी मिट्टी थोड़ी रेताली है। तो आपको तीन सिंचाई भी लगानी पड़ सकती है। लेकिन सरसों आम तौर पर दो सिंचाई में पैक कर तैयार हो जाती है। सरसों में दूसरी सिंचाई का सही समय और दूसरी सिंचाई पर हमें क्या खाद डालना चाहिए। इस बारे में संपूर्ण जानकारी नीचे जानें-

सरसों की फसल में दूसरी सिंचाई कब करें

सरसों की फसल में दूसरी सिंचाई हमें 60 से 70 दिन पर करनी चाहिए। लेकिन अगर आपकी जमीन रेताली है, तो आप सिंचाई 10 दिन पहले भी कर सकते हैं। अगर आपके खेत में पर्याप्त नमी है। तो आपको सिंचाई करने की आवश्यकता नहीं है। सरसों में सिंचाई तभी करनी चाहिए, जब उसमें सिंचाई की जरूरत हो। क्योंकि सरसों में कम पानी की आवश्यकता होती है। सरसों में हमेशा हल्की सिंचाई करनी चाहिए।

सरसों में तेजी से फ़ैल रहा है, सफेद तना गलन रोग कैसे करें रोकथाम

सरसों में दूसरी सिंचाई पर खाद

किसान साथियों अगर आपने पहली सिंचाई पर यूरिया के साथ मिलकर सल्फर डाल दी है। तो आपको इस बार सल्फर डालने की आवश्यकता नहीं है। आप इसमें अकेला 35 से 40 किलोग्राम यूरिया प्रति एकड़ के हिसाब से प्रयोग करें। अगर आप चाहे तो इसमें पोटाश मिल सकते हैं। अगर आपने मिट्टी में बिजाई के समय प्रयोग नहीं किया, तो आप इसमें अकेले यूरिया का ही प्रयोग करें। इसमें आपको फालतू खर्च करने की आवश्यकता नहीं है।

सरसों में दूसरी सिंचाई के बाद स्प्रे

सरसों में हम दूसरी सिंचाई के बाद स्प्रे करने पर अपनी पैदावार को दो से तीन कुंतल प्रति एकड़ तक बढ़ा सकते हैं। क्योंकि यह समय इसमें फूलों निकालने और फलियां बनने का होता है। इस समय हमें NPK-0-52-34 1 किलोग्राम प्रति एकड़ और बोरोन 100 ग्राम प्रति एकड़ को आपस में मिलाकर स्प्रे करना चाहिए। यह आपके दानो को मजबूत करता है।और दाना वजनदार बनता है। गर्मी में दाना सिकुड़ता नहीं है। इसलिए यह स्प्रे अवश्य करें।

ये स्प्रे करने के 10 से 15 दिन बाद NPK-0-0-50 का स्प्रे भी कर सकते हैं। इसकी मात्रा भी 1 किलोग्राम प्रति एकड़ लेनी है। पोटाश से आपके दाने में चमक आती है।

किसान साथियों आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी। कृपया कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और इसे आगे दूसरे किसानों तक भी शेयर करें। धन्यवाद!

FAQ

सरसों में यूरिया कितनी डालें?
सरसों में हमे 90kg यूरिया प्रति एकड़ प्रयोग करना चाहिए। इसको हमे 3 भागों में बाँट कर देना चाहिए। एक भाग बजाई के समय, दूसरा भाग 30 दिन पर और तीसरा भाग 60 दिन पर दे देना चाहिए।

ये भी पढ़ें – सरसों वाले किसान सावधान:तेजी से फ़ैल रहा है ये रोग, समय पर करें रोकथाम,पहचान, रोकथाम का तरीका सम्पूर्ण जानें

सरसों में यूरिया डालने का सही समय और मात्रा के बारे में जाने

सरसों में फूल आने पर पैदावार बढ़ाने के लिए यह दो जरूरी काम करें(2023):सरसों की खेती में पैदावार बढ़ाने के कुछ तरीके

इस समय करें सरसों की बिजाई मिलेगी 1क्वान्टल से 2 क्वान्टल प्रति एकड़ तक अधिक पैदावार

Kheti jankari

खेती जानकारी एक ऐसी वेबसाइट है। जिसमें आपको कृषि से जुड़ी जानकारी दी जाती है। यहां आप कृषि, पशुपालन और कृषि यंत्रों से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

1 thought on “सरसों में दूसरी सिंचाई पर डालें ये दमदार खाद:मिलेगी 1 से 2 कुंतल अधिक पैदावार:Fertilizer on second irrigation in mustard”

  1. #किसान_दिवस
    ज़िन्दगी में कुछ भी बनिये मगर दिल से #किसान जरूर बने रहो…
    क्योकिं किसान सिर्फ अपने परिवार को नही पालता बल्कि वह ईमानदारी और स्वाभिमानता को भी ज़िन्दगी भर पालता है
    सर्व सम्मानित #अन्नदाताओं को किसान दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं….
    🙏🚩🙏 जयदयाल नाई गांधीनगर 25Rwd रावतसर जिला हनुमानगढ़

    Reply

Leave a Comment