सरसों में पाले से नुक्सान:क्या करें किसान, कृषि वैज्ञानिकों ने बताएं यह आसान तरीका:Ways to avoid frost damage to mustard

By Kheti jankari

Updated on:

सरसों में पाले से नुक्सान

सरसों में पाले से नुक्सान। सरसों को पाले के नुकसान से बचने के उपाय। सरसों की फसल। सरसों की खेती। सरसों में रोग। सरसों पे मौसम का प्रभाव। सरसों की फसल में पाले के नुक्सान। Ways to avoid frost damage to mustard.

गेहूं में एनपीके, बोरोन और फंगीसाइड को मिक्स करके स्प्रे कर सकते हैं, या नहीं

किसान साथियों नमस्कार, सरसों की फसल में फूलों के बाद अब फलिया बननी शुरू हो गई हैं। इस समय मौसम में ठंड के कारण पाला भी पड़ने लगा है। अत्यधिक ठंड होने और पाला पड़ने से सरसों की फसल को नुकसान उठाना पड़ता है। सरसों में दाने बनने लगे है। अत्यधिक ठंड की वजह से पौधे के एंजाइम्स जम जाते हैं, और सरसों की फलियां अपनी पूरी ग्रोथ नहीं कर पाती। सूर्य के प्रकाश के बिना फूल से फलियाँ बनाने में देरी करते हैं। जिससे फसल को पकाने में अधिक समय भी लगता है। किसान साथियों इस समय सरसों की फसल को पाले से बचाने के लिए आप नीचे बताये कुछ कार्य कर सकते है।

सरसों की फसल में पाले के नुक्सान

सरसों की फसल में पाला पड़ने से पौधे में पड़े एंजाइम जम जाते हैं। जिससे पौधे और फलियों की ग्रोथ रुक जाती है। दूसरा धूप न निकलने की वजह से पौधे की प्रकाश संश्लेषण की क्रिया रुक जाती है, और पौधा हरा भरा नहीं रह पाता। जिससे पैदावार में नुक्सान होता है। पाला पढ़ने से आपकी फसल में माहु कीटों का प्रकोप भी आपकी सरसों पर अधिक देखने को मिलता है।

गेहूं में दोगुने कल्ले और लंबी बाली के लिए पानी के साथ डालें ये तीन खाद:अनुभवी किसान का फार्मूला

सरसों को पाले के नुकसान से बचने के उपाय

सरसों की फसल को पाले के नुकसान से बचने के लिए आप नीचे दिए गए कुछ कार्य कर सकते हैं।

  • सबसे पहले किसान भाई आपको खेत में नमी बनाई रखें। क्योंकि पानी में भी गर्मी होती है। और जिससे पौधे को पाले बचाया जा सकता है।
  • दूसरा आप अपनी फसल में सल्फर का स्प्रे करें या उसे खाद के रूप में सल्फर दे। इससे भी पाले का प्रभाव पौधे पर कम पड़ता है।
  • हारु (टेबुकोनाज़ोल 10% + सल्फर 65% डब्लूजी) की 500 ग्राम मात्रा प्रति एकड़ स्प्रे करें।
  • आप अपने फसल पर NPK-0050 की 1KG मात्रा प्रति एकड़ प्रयोग करें। पोटाश आपके पौधें की पाले से बचाएगा।
  • 1 किलोग्राम यूरिया प्रति एकड़ का छिड़काव कर सकते हैं। इससे भी आपकी फसल पहले के नुकसान से कुछ हद तक बच जाएगी।

किसान साथियों आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी। कृपया कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और इसे अन्य दूसरे किसानों तक अवश्य शेयर करें। धन्यवाद!

FAQ

पाले से फसलों को क्या नुकसान होता है?
पाले पढ़ने से फसल के अंदर का पानी जैम जाता है। और पौधा अपनी जरूरी क्रियाएं समय पर नहीं कर पाता। जिससे आपकी पैदावार पर प्रभाव पड़ता है।

ये भी पढ़ें- गेहूं में कद रोकने वाली दवाई का प्रयोग करना चाहिए:क्या कहते हैं कृषि वैज्ञानिक, अनुभवी किसानों की राय जानें

गेहूं में 24D 38% डालें या 58%:क्या कहते हैं कृषि वैज्ञानिक, किन-किन खरपतवारों का होगा सफाया, संपूर्ण जाने

गेहूं में जिंक डालने के बाद भी जिंक की कमी पूरी नहीं हुई(2023):ये हैं मुख्या कारण

दिसंबर के महीने में करें इन गेहूं किस्मों की बिजाई मिलेगी अधिक पैदावार(2023)

Kheti jankari

खेती जानकारी एक ऐसी वेबसाइट है। जिसमें आपको कृषि से जुड़ी जानकारी दी जाती है। यहां आप कृषि, पशुपालन और कृषि यंत्रों से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment