गेहूं में बालियां निकलने पर कौनसा स्प्रे करें:महत्वपूर्ण बातें, पैदावार बढ़ाने का सही समय:Main spray for earing in wheat

By Kheti jankari

Published on:

गेहूं में बालियां निकलने पर कौनसा स्प्रे करें

गेहूं में बालियां निकलने पर कौनसा स्प्रे करें। गेहूं की खेती। गेहूं में मुख्या स्प्रे। गेहूं में पैदावार बढ़ाने के लिए क्या करें। गेहूं में पोटाश का स्प्रे। गेहूं में कीटनाशक का स्प्रे। गेहूं पैदावार बढ़ाने का सही समय। Main spray for earing in wheat.

गेहूं में बोरोन का प्रयोग:बोरोन पैदावार बढ़ाने में कैसे मदद करती है, कब प्रयोग करें

इस समय गेहूं की फसल में कुछ किसानों की बालियां निकलने को है, तथा कुछ किसानों की बालियां निकल गई। आपने अभी तक अपनी गेहूं में सभी प्रकार के खादों और न्यूट्रिशन का पर्याप्त मात्रा में प्रयोग किया होगा। लेकिन बालियां निकलने पर आपको एक से दो काम करने पड़ेंगे। जिससे आप अपनी पैदावार को दो से तीन क्वांटल प्रति एकड़ तक बढ़ा सकते हैं। इस समय गर्मी थोड़ी अधिक पड़ती है और पौधे में हीट स्ट्रेस अक्सर देखने को मिलती है। इस समय हम क्या करें, कैसे पैदावार बढ़ाए। इन सब की जानकारी के लिए कृपया पूरा लेख पढ़ें।

गेहूं में बालियां निकलने पर ध्यान रखने योग्य बातें

गेहूं में बालियां निकलने पर हमें कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि यह हमारी फसल के लिए सबसे महत्वपूर्ण समय होता है। बालियाँ निकलने पर हमें खेत में पर्याप्त नमी बनाई रखनी चाहिए। क्योंकि इस समय पानी की अधिक आवश्यकता पड़ती है। दूसरा किसान साथी पानी उस समय लगाएं, जब तेज हवा ना चलती हो। क्योंकि इस समय तेज हवाएं चलने से गेहूं गिर जाती है। अगर आपका खेत बालियों से पूरी तरह से भर गया है, तो आपको इस समय उसमें ध्यान रखना है कि उसमें कोई कीट रोग या फंगस रोग ना लगे। इसके लिए समय-समय पर स्प्रे करते रहें। गेहूं की फसल को गर्मी से बचने के लिए आप इसमें पोटाश का स्प्रे कर सकते हैं।

65 दिन में तैयार होगी गेहूं की फसल:वैज्ञानिकों रहे है नई तकनीक का बीज तैयार

गेहूं में बालियां निकलने पर मुख्या स्प्रे

गेहूं में हमें बालियां निकलने पर सबसे जरूरी पोटाश का स्प्रे करना चाहिए। पोटाश दाने में चमक बढ़ाने के साथ-साथ पौधे को गर्मी से भी बचाता है। जिससे दाने सिकुड़ते नहीं है, और अच्छी पैदावार निकाल कर देते हैं। इस समय हमें पोटाश, कीटनाशक और फूफंदी नाशक का स्प्रे करना चाहिए। पोटाश में एनपीके 00-00-50 1kg प्रति एकड़, एफएमसी (लीजेंड) 48g + कीटनाशक में थियामेंथोक्सम 25% डब्ल्यूजी 100 ग्राम प्रति एकड़, इमिडाक्लोप्रिड 17.8% एस.एल 100ml प्रति एकड़ + फफूंदीनाशक में प्रोपिकोनाज़ोल 25% ई.सी 250ml प्रति एकड़, एज़ोक्सीस्ट्रोबिन 11% और टेबुकोनाज़ोल 18.3% w/w SC 200ml प्रति एकड़, तीनों में से किसी एक को लेकर आपस में घोल बनाकर स्प्रे कर सकते हैं।

यह स्प्रे करने से निश्चित ही आपकी गेहूं की फसल में किसी प्रकार का कोई रोग नहीं लगेगा और वह आपको अधिक पैदावार निकाल कर देगी।

आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी। कृपया कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और इसे आगे अन्य किसानों तक अवश्य शेयर करें। धन्यावाद!

ये भी पढ़ें- गेहूं में सस्ता स्प्रे और शानदार पैदावार:कृषि वैज्ञानिक ने बताई महत्पूर्ण बातें

गेहूं की गोभ अवस्था में अराइज एग्रो लिमिटेड के इस उत्पाद का करें प्रयोग:गेहूं के लिए सबसे दमदार चीज

गेहूं वाले किसान सावधान:ठंड के मौसम में तेजी से फैल रहा है ये रोग

गेहूं की बाली में दानों की संख्या और दानों का वजन बढ़ाने के लिए करें ये स्प्रे:खर्च मात्र 150रु

Kheti jankari

खेती जानकारी एक ऐसी वेबसाइट है। जिसमें आपको कृषि से जुड़ी जानकारी दी जाती है। यहां आप कृषि, पशुपालन और कृषि यंत्रों से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment