HAU द्वारा तैयार की गई मूंग की सबसे जबरदस्त किस्म:पीलिया रोग बिलकुल नहीं:Moong variety characteristics

By Kheti jankari

Published on:

HAU द्वारा तैयार की गई मूंग की सबसे जबरदस्त किस्म

HAU द्वारा तैयार की गई मूंग की सबसे जबरदस्त किस्म। मुंग की खेती। मुंग की उन्नत किस्म। मुंग की टॉप किस्म। अधिक पैदावार देने वाली मुंग किस्म। एमएच-1142 मुंग किस्म। Moong variety characteristics.

मूंग की उन्नत खेती:बजाई समय, बीज मात्रा सम्पूर्ण

किसान साथियों नमस्कार, मूंग की खेती रबी और खरीफ दोनों सीजन में की जाती है। लेकिन खरीफ के सीजन में मूंग की फसल से अधिक पैदावार निकलती है। क्योंकि उसे समय मूंग की खेती के लिए मौसम अनुकूल रहता है। मूंग की काफी सारी किस्में बाजार में आपको अलग-अलग नाम से देखने को मिलेंगे। ऐसी ही एक किस्म हरियाणा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी हिसार द्वारा तैयार की गई है। जो एमएच-1142 के नाम से जानी जाती है। इस मूंग किस्म के बारे में संपूर्ण जानकारी के लिए पूरा लेख पढ़ें-

एमएच-1142 मुंग किस्म की विशेषताएं

एमएच-1142 हरियाणा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी हिसार द्वारा वर्ष 2020 में तैयार की गई एक मूंग किस्म है ,यह किस्म पीला मोजक रोग के प्रति सहनशील है और पाउडर मिलेडीयू रोग के प्रति मध्य सहनशील है। यह मूंग की किस्म मुख्य रूप से खरीफ सीजन के लिए बनाई गई है। खरीफ के सीजन में इसकी पैदावार रबी के मुकाबले अधिक निकलती है।

किसानों के बीच मशहूर है मूंग की यह किस्म

एमएच-1142 मुंग किस्म का पकाने का समय

मूंग की यह किस्म पकने में 65 से 70 दिन का समय लेती है। लेकिन अगर आप इसकी खरीफ के मौसम में बिजाई करते हैं। तो यह 5 से 10 दिन अधिक ले सकती है।

एमएच-1142 मुंग किस्म की औसत पैदावार

मूंग की इस किस्म की औसत पैदावार 10 से 12 क्वांटल प्रति एकड़ तक रहती है। लेकिन आप इसे खरीफ के सीजन में बिजाई करके 12 क्वांटल से भी अधिक पैदावार ले सकते हैं।

एमएच-1142 मुंग किस्म का बजाई क्षेत्र

इस किस्म की बिजाई आप बिहार, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, झारखंड, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और असम आदि राज्यों में मुख्य रूप से कर सकते हैं। इन राज्यों में यह किस्म सबसे अच्छी पैदावार निकाल कर देती है।

एमएच-1142 मुंग किस्म की बीज मात्रा

मूंग की इस किस्म का 8 से 10 किलोग्राम बीज प्रति एकड़ बिजाई की जाती है।

किसान साथी अगर आपने इस किस्म की बिजाई पहले भी की है। तो कृपा कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और इसे आगे दूसरे किसानों तक भी अवश्य शेयर करें। धन्यवाद!

ये भी पढ़ें- गेहूं की बाली में दानों की संख्या और दानों का वजन बढ़ाने के लिए करें ये स्प्रे:खर्च मात्र 150रु

सरसों में पाले से नुक्सान:क्या करें किसान, कृषि वैज्ञानिकों ने बताएं यह आसान तरीका

गन्ने में जड़ बेधक का नियंत्रण कैसे करें:गन्ने की ऊपरी पत्तियां पीली होने का कारण

चने में जड़ गलन समस्या(2024):किसानों के अनुभव, ये कुछ बातें आपको कोई नहीं बताएगा

Kheti jankari

खेती जानकारी एक ऐसी वेबसाइट है। जिसमें आपको कृषि से जुड़ी जानकारी दी जाती है। यहां आप कृषि, पशुपालन और कृषि यंत्रों से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

3 thoughts on “HAU द्वारा तैयार की गई मूंग की सबसे जबरदस्त किस्म:पीलिया रोग बिलकुल नहीं:Moong variety characteristics”

Leave a Comment